Connect with us

Govt Schemes

कन्या सुमंगला योजना- Kanya Sumangala Yojana (MKSY) Online Form and other Info

Published

on

kanya sumangala yojana

हमारे देश में अलग अलग राज्य सरकारों द्वारा महिलाओं और लड़कियों के लिए काफी सारी योजनाएं चलाई जाती हैं। इन योजनाओं के माध्यम से सरकार लड़कियों को अपने जीवन में कुछ अच्छा करने और आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करना चाहती है। हमारे देश में लगभग आधी आबादी महिलाओं की है। परन्तु आबादी का इतना बड़ा हिस्सा होने के बाद भी महिलाओं की स्थिति समाज में कुछ विशेष अच्छी है नहीं। आज भी शिक्षा दिलवाने में लड़कियाँ कई परिवारों में पहली प्राथमिकता नहीं होती। अगर परिवार के पास पर्याप्त धन नहीं होता तो सबसे पहले वह लड़कयों की ही पढ़ाई छुड़वाते हैं।

इस स्थिति को बदलने की ज़रूरत है।इसे बदलने के लिए और लड़कियों को शिक्षित करने मैं मदद करने के लिए उत्तर परदेश सरकार एक काफी अच्छी योजना चला रही है जिसका नाम है मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना। Kanya Sumangala Yojana (MKSY) के अंतर्गत सरकार ज़रूरतमंद लड़किओं को कुछ धन राशि देगी।

इस धन राशि को लड़कियों के परिवार उनकी पढाई कराने में इस्तेमाल कर सकते हैं। इस धन राशि को सरकार लड़कियों को उनके जावन में अलग अलग समय पर देगी जैसे की उनके जन्म लेने पर, पहली कक्षा में आने पर आदि। तो यह योजना उत्तर प्रदेश की लड़कियों के लिए काफी महत्वपूर्ण है। इसीलिए आज हम आपको इस योजन के बारे में बताएंगे। या तो आप इस आर्टिकल को पूरा पढ़ सकते हो या फिर अपने हिसाब से अलग अलग हैडिंग में दिए हुए कंटेंट को पढ़ सकते हो। हमने जो टेबल ऑफ़ कंटेंट का सेक्शन दिए है उसका इस्तेमाल करके आप सीधे अपने रूचि के हिसाब से टॉपिक को पड़ सकते हैं।

Kanya Sumangala Yojana (MKSY)- Overview

तो जैसा की आप लोग जानते हैं की कन्या सुमंगला योजना उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा चलाई जा रही है। प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी द्वारा इस योजना का शुभारम्भ अक्टूबर 25, 2019 को लखनऊ में किया गया था। इस योजना के अंतर्गत राज्य की लड़कियों को कुल 15,000/- रुपये की धन राशि प्रदान की जाएगी। इस धन राशि को लड़कियों को 6 अलग अलग श्रेणियों में दिया जाएगा। इसमें पहली श्रेणी कन्या के जन्म से शुरू होगी और आखिरी श्रेणी होगी जब कन्या कॉलेज में दाखिला लेगी। इस प्रकार अलग अलग चरणों में रुपये दिए जाएंगे और लड़कियों को और उनके परिवारों को प्रोत्साहित किया जाएगा।

इस योजना का मूल उद्देश्य तो समाज में लड़कियों के प्रति बानी हुई नकारात्मक धरना को ही बदलना है। जिससे कन्याओं का परिवार उन्हें जीवन में आगे बढ़ने और कुछ करने के लिए प्रेरित करे। इस योजना में रजिस्टर करने के लिए भी सरकार का एक ऑनलाइन पोर्टल है जिपर राज्य के लोग ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं। आगे हम इस आर्टिकल में आपको इसके बारे में ही जानकारी देने वाले हैं।

कन्या सुमंगला योजना का उद्देश्य 

हम अगर आज भीअनपे आस पास के समाज में देखेंगे तो यह पाएंगे की लड़कियां अभी भी अपने हक़ से वंचित हैं। अगर संख्या के हिसाब से देखें तो लगभग उतनी ही लड़कियाँ हैं जितने की लड़के हैं। लेकिन फिर भी लड़कियों की स्थिति कुछ ख़ास अच्छी नहीं है। काफी लड़कियाँ तो अपनी पढाई भी पूरी नहीं कर पाती। इसका एक मुख्या कारण है तो यह है की समाज में आज भी कन्याओं के प्रति लोगों की सोच काफी नकारात्मक है। स्थिति इतनी ख़राब है की कभी कभी कन्याओं के अपने परिवार वाले भी उन्हें बोझ समझते हैं और उन्हें उनके अधिकारों से वंचित रखते हैं।

इस प्रकार की सोच और व्यवहार के कारण ही देश में कन्या भ्रूण हत्या जैसे अपराध भी होते हैं और काफी सारी लड़कियाँ शिक्षा से भी वंचित रह जाती हैं। इस सबको ध्यान में रखते हुए ही यह योजना शुरू की गई है। इस योजना के माध्यम से जब कन्या जन्म लेगी तभी उसके परिवार को कुछ धन राशि प्रदान की जाएगी। इससे लोगो की कन्याओं के प्रति सोच को भी बदलने में मदद मिलेगी। इस योजना के माध्यम से लोगो की सोच बदलकर कन्या भूर्ण हत्या जैसे अपराध जोकि कन्याओं के खिलाफ होते हैं उन्हें भी रोकने में मदद मिलेगी।

Mukhyamantri Kanya Sumangala Yojana (MKSY) के माध्यम से ज़ादा से ज़ादा कन्याओं को शिक्षित करने में भी मदद मिलेगी। जब लड़कियाँ शिक्षित होंगी तो उनका भविष्य भी उज्जवल होगा और लोगों की भी सोच सकारात्मक होगी।

Kanya Sumangala Yojana के लिए आवेदन करने की प्रक्रिया 

जो भी लोग इस योजना के लिए आवेदन करना चाहते हैं वो ऑनलाइन कर सकते हैं। उत्तर प्रदेश सरकार ने इस योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया शुरू कर दी है। इसके लिए आपको MKSY की ऑफिसियल वेबसाइट को विजिट करना होगा और वहाँ पर कुछ ही स्टेप्स में आप अप्लाई कर सकते हैं। या फिर आप नीचे बताई गई प्रक्रिया को भी फॉलो कर सकते हैं आवेदन करने के लिए।

Step 1- आवेदन करने के लिए सबसे पहले आपको ऑफिसियल वेबसाइट https://mksy.up.gov.in/ पर विजिट करना है।

Step 2- इस वेबसाइट पर आने के बाद आपको जो पेज दिखेगा उस पर एक विकल्प होगा “नागरिक सेवा पोर्टल” या “Civil Service Portal” नाम से। इस विकल्प पर आपको क्लिक कर देना होगा।

Step 3- उस विकल्प पर क्लिक करने के बाद आपकी स्क्रीन पर एक नया पेज खुलेगा जिस पर कुछ नियम और शर्तें लिखी होंगी। उन नियमों और शर्तों को अच्छे पड़ने के बाद आपको “I Agree” वाले ऑप्शन पर क्लिक करके “Continue” वाले बटन पर क्लिक करना है।

terms and condition

terms and condition

Step 4- अब आपकी स्क्रीन पर एक फॉर्म खुल जाएगा जिसमें आवेदक को अपनी कुछ जानकारी जैसे की नाम, पता, मोबाइल नंबर आदि भर देना होगा। आपको सबसे निचे दिए हुए captcha code को भरना है और “Send SMS OTP” वाले बटन पर क्लिक कर देना है।

registration form

registration form

Step 5- अब आपके पास एक OTP आएगा जिसे  भरने के बाद आपको एक लॉगिन आईडी और पासवर्ड मिलेगा। इसे आपको संभल के रखना है।

Step 6- अब इस लॉगिन आईडी और पासवर्ड का इस्तेमाल करके आपको MKSY पोर्टल पर लॉगिन कर लेना है।

Step 7- लॉगिन करने के आपको एक एप्लीकेशन फॉर्म मिलेगा कन्या सुमंगला योजना के लिए। इस फॉर्म को सही से भरना है और जो भी दस्तावेज़ मांगे गए है उन्हें अपलोड कर देना है। लास्ट में आपको इस फॉर्म को सबमिट कर देना है।

Step 8- फॉर्म सबमिट कर देने के बाद एक एप्लीकेशन आईडी मिलेगा जिसे आपको संभल कर रख लेना होगा।

Also Read:- Tnreginet

ऑफलाइन आवेदन करने की प्रक्रिया

जो लोग ऑनलाइन आवेदन नहीं करना चाहते तो उन लोगो के लिए ऑफलाइन आवेदन की सुविधा भी खुली हुई है। इसमें भी आपको कुछ स्टेप्स फॉलो करने हैं आवेदन करने के लिए।

Step 1- सबसे पहले तो आवेदक को एक एप्लीकेशन फॉर्म की आवश्यकता होगी। एप्लीकेशन फॉर्म Block Development Officer (विकास खंड अधिकारी), SDM, Probation Officer, Deputy Chief Probation Officer आदि किसी के भी कार्यालय से मिल जाएगा।

Step 2- एप्लीकेशन फॉर्म मिलने के बाद आपको उस फॉर्म में सारी सही जानकारी भर देनी है। फॉर्म में जो भी दस्तावेज़ मांगे गए हो वो सारे दस्तावेज़ एप्लीकेशन फॉर्म के साथ अटैच कर देने है।

Step 3- एप्लीकेशन फॉर्म को पूरा भरने के बाद उसको ऊपर दिए गए किसी भी एक कार्यालय में जमा कर देना है। इस तरह से आपके ऑफलाइन आवेदन की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

कन्या सुमंगला योजना के पात्रता मापदंड

1. इस योजना का लाभ एक ही अपरिवार की अधिकतम दो लड़कियां दिए जा सकता है।

2. इस योजना का लाभ लेने के लिए आवेदक को उत्तत प्रदेश का स्थायी निवास होना अनिवार्य है।

3. जिन आवेदक परिवारों की वार्षिक आय 3 लाक रुपये या फिर उससे कम है उनको इस योजना का लाभ दिया जा सकता है।

4. अगर किसी परिवार ने किसी अनाथ बच्ची को गोद लिए है तो वह बच्ची भी इस योजना का लाभ उठा सकती है। इस स्थिति में गोद ली हुई अधिकतम दो बच्चियाँ को ही इस योजना का लाभ दिया जा सकता है। इसी के साथ उसी परिवार की दो और जैविक बच्चियाँ भी इस योजना का लाभ उठा सकती हैं। यानि के दो गोद ली हुई बच्चियाँ और दो उसी परिवार की जैविक बच्चियाँ एक साथ इस योजना का लाभ उठा सकती हैं।

5. अगर किसी परिवार की जुड़वाँ बेटियां हैं तो उनको सरकार अलग अलग से इस योजना का लाभ देगी। इस स्थिति में एक ही परिवार की तीन बेटियाँ को इस योजना का लाभ दिए जा सकता है। यानि की दो जुड़वाँ बेटियाँ और एक और बेटी को इस योजना एक तहत लाभ दिया जा सकता है।

आवेदन के ज़रूरी दस्तावेज़ 

जैसा की सभी सरकारी योजना में होता है इस योजना में भी आवेदन के लिए कुछ ज़रूरी दस्तावेज़ होते है।

1. राशन कार्ड जिसपे कन्या का नाम हो।

2. परिवार की आय का प्रमाण पत्र।

3. कन्या की हाल ही में ली हुई कोई पासपोर्ट साइज फोटो।

4. बैंक खाते की पासबुक।

5. यदि बेटी गोद ली हुई है तो गोद लेने का प्रमाण पत्र।

6. निवास प्रमाण पत्र।

7. सरकार द्वारा जारी कोई हुई एक आईडी प्रूफ।

Kanya Sumangala Yojana की श्रेणियाँ

श्रेणियां दी जाने वाली धनराशि
श्रेणी 1 – जिन कन्याओं का जन्म 01/04/2019 या फिर इससे बाद में हुआ है वो इस श्रेणी में आएंगी। 2000 रूपये की धनराशि दी जाएगी|
श्रेणी 2 – कन्या के एक वर्ष की होने और उसका संपूर्ण टीकाकरण होने के बाद वह इस श्रेणी में आएगी। 1000 रूपये की धनराशि दी जाएगी |
श्रेणी 3 – इस श्रेणी में कन्या तब आएगी जब वह कक्षा 1 में प्रवेश लेगी 2000 रूपये की धनराशि प्रदान की जाएगी |
श्रेणी 4 – इस श्रेणी में कन्या तब आएगी जब वह कक्षा 6 में प्रवेश लेगी 2000 रूपये की धनराशि प्रदान की जाएगी |
श्रेणी 5 – जब बालिका कक्षा 9 में प्रवेश लेगी तो वह इस श्रेणी में आएगी 3000 रूपये की धनराशि
श्रेणी 6 – इस श्रेणी में वह बालिका होंगी जो कक्षा 10 /12 वी उत्तीर्ण करके चालू शैक्षिणिक सत्र के दौरान स्नातक /डिग्री या कम से कम दो वर्षीय डिप्लोमा में प्रवेश लेंगी 5000 रूपये की धनराशि प्रदान की जाएगी |

कन्या सुमंगला योजना की कुछ विशेषताएँ

1. Kanya Sumangala Yojana के तहत उत्तर प्रदेश की लड़कियों को 15,000/- रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।

2. इस योजना के मैं धन राशि सीधे लाभार्थी के बैंक अकाउंट में ट्रांसफर की जाएगी। यही राशि बैंक एकाउंट्स में PFMS के माध्यम से भेजी जाएगी।

3. इस योजना में एक परिवार से अधिकतम दो बालिकाओं को ही लाभ दिए जा सकता है।

4. यह योजना राज्य की लड़कियों को सुरक्षा, शिक्षा और संरक्षण प्रदान करेगी जिससे की बालिकाओं के विकास में मदद मिलेगी।

Final Words

उत्तर प्रदेश सरकार का यह कदम बालिकाओं के जीवन में एक काफी प्रभावी कदम साबित हो सकता है। क्यूंकि जब बालिकाएं शिक्षित होंगी तो वह अपने जीवन में ज़रूर बदलाव ला पाएंगी। और यह योजना बालिकाओं को सिर्फ शिक्षा ही नहीं बल्कि संरक्षण भी प्रदान करेगी। उत्तर प्रदेश सरकार ने इस योजना के लिए 1,200 करोड़ रुपये का फण्ड जारी किया है। इस फण्ड में से बालिकाओं को धन राशि दी जाएगी।

तो यह थी इस योजना से जुडी हुई कुछ महत्वपूर्ण जानकारियाँ। हमने इस आर्टिकल में ज़्यादा से ज़्यादा जानकारी देने का प्रयास किआ है। अगर आपको यह आर्टिकल अच्छ लगा तो आप इसको अपने दोस्तों के साथ में शेयर भी कर सकते हैं।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *